Shree Tulsi Aarti

Share on facebook
Share on twitter
Share on telegram
Share on whatsapp

卐 श्री तुलसी आरती 卐


Shree Tulsi Aarati in Hindi

जय जय तुलसी माता,

सब जग की सुखदाता ।


॥ जय जय तुलसी माता।|


सब योगों के ऊपर,

सब लोगों के ऊपर,


रुज से रक्षा करके भव त्राता।


॥ जय जय तुलसी माता।|


बटु पुत्री है श्यामा,

सूर बल्ली है ग्राम्या,


विष्णु प्रिये जो तुमको सेवे,

सो नर तर जाता।


॥ जय जय तुलसी माता॥


हरि के शीश विराजत

त्रिभुवन से हो वंदित,


पतित जनों की तारिणि,

तुम हो विख्याता।


॥ जय जय तुलसी माता॥


लेकर जन्म विजन में आई

दिव्य भवन में,


मानव लोक तुम्हीं से

सुख संपत्ति पाता।


॥ जय जय तुलसी माता॥


हरि को तुम अति प्यारी

श्याम वर्ण सुकुमारी,


प्रेम अजब है उनका

तुम से कैसा नाता।


॥ जय जय तुलसी माता॥

॥ इति श्री तुलसी आरती ॥

卐 Shree Tulsi Aarati 卐

Jai Jai Tulsi Mata,

Sab Jag Ki Sukh Daata


Jai Jai Tulsi Mata..


Sab Yugon Ke Upar,

Sab Logon Ke Upar


Ruj Se Raksha Karke Bhav Trata


Jai Jai Tulsi Mata..


Batu Putri Hai Shyama,

Sur Balli Hai Graamya


Vishnu Priye Jo Tumko Seve,

So Nar Tar Jaata


Jai Jai Tulsi Mata..


Hari Ke Sheesh Viraajat

Tribhuvan Se Ho Vandit


Patit Jano Ki Taarini,

Tum Ho Vikhyata


Jai Jai Tulsi Mata..


Lekar Janam Vijan Mein Aayi

Divya Bhavan Me


Maanav Lok Tumhi Se

Sukh Sampatti Paata


Jai Jai Tulsi Mata..


Hari Ko Tum Ati Pyaari

Shyaam Varn Kumari


Prem Ajab Hai Unka

Tumse Kaisa Naata


Jai Jai Tulsi Mata..

॥ It’s Shree Tulsi Aarati॥

Sharing Is Karma

Share on facebook
Share
Share on twitter
Tweet
Share on linkedin
LinkedIn
Share on telegram
Telegram
Share on whatsapp
WhatsApp

More Aarti's

Collectionब्रह्मसंग्रह

!! भारतीय ज्ञान और परंपरा का एक प्रगतिशील संग्रहालय  !!

Articlesब्रह्मलेख