Sanskriti

Sanskriti

Articlesब्रह्मलेख

• 2 weeks ago
The Vedas however are not as well known for pre-senting historical and scientific knowledge as they are for expounding subtle sciences, such as the power...

Share now...

• 1 month ago
Today we have not yet recovered even a quarter of the deeper meaning of the Vedic mantras, much less find the Vedic mantras explained in...

Share now...

• 2 months ago
योगी आदित्यनाथ जी द्वारा लिखित लेख के सन्दर्भ में जो गलत व्याख्या की जा रही है, उसके लिए असली लेख की प्रतिलिपि संलग्न है।  ...

Share now...

• 3 months ago
सनातन भारतीय परंपरा में गुरु अग्निरूप माना गया है किन्तु वह जलाता नहीं है, वह अपने तप की आंच से शिष्य को तपाता और चमकाता...

Share now...

• 3 months ago
The Sanskrit language, extending to Vedic Sanskrit, is a highly refined sophisticated poetic language that appears connected to both the courts of kings and to...

Share now...

• 3 months ago
मौखिक परंपरा  सामूहिक अभिव्यक्ति का एक माध्यम है जो लोगों के अनुभव और गतिविधियों के निशान के साथ पूरी होती है। आमतौर पर, समय के...

Share now...

• 4 months ago
“मैं बैरी , सुग्रीव पियारा अवगुन कवन नाथ मोंहिं मारा “ बाली का वध करने वाले राम बहुत कठोर दिखाई देते हैं ?? मरणासन्न बाली...

Share now...

• 5 months ago
संस्कृत के महत्वपूर्ण धातु रूप ‘भू’, ‘भव’ और ‘अस्’ का अर्थ है होना। उसी प्रकार से जैसे अंग्रेजी के BE और being शब्द से होने...

Share now...

• 7 months ago
जयभवानी! इस कठिन काल में भवानी की अर्चना का महत्व है। माता सारे अंधेरे दूर करती है, सारे भ्रम छांट देती है, अहंकार को गला-मिटाकर...

Share now...

Shlokaब्रह्माश्लोक

No data was found
No data was found