...
Background

prata samaya navakuṃja mahala me

0
0

Change Bhasha

प्रात समय नवकुंज महल में श्री राधा और नंदकिशोर ॥ दक्षिणकर मुक्ता श्यामा के तजत हंस अरु चिगत चकोर ॥१॥ तापर एक अधिक छबि उपजत ऊपर भ्रमर करत घनघोर ॥ सूरदास प्रभु अति सकुचाने रविशशि प्रकटत एकहि ठोर ॥२॥

Buy Latest Products

Built in Kashi for the World

ॐ सर्वे भवन्तु सुखिनः