...
Background

Aaj veeran apna ghar dekha

Dushyant Kumar

0
0

Change Bhasha

आज वीरान अपना घर देखा

तो कई बार झाँक कर देखा

पाँव टूटे हुए नज़र आये

एक ठहरा हुआ सफ़र देखा

होश में आ गए कई सपने

आज हमने वो खँडहर देखा

रास्ता काट कर गई बिल्ली

प्यार से रास्ता अगर देखा

नालियों में हयात देखी है

गालियों में बड़ा असर देखा

उस परिंदे को चोट आई तो

आपने एक-एक पर देखा

हम खड़े थे कि ये ज़मीं होगी

चल पड़ी तो इधर-उधर देखा.

Buy Latest Products

Built in Kashi for the World

ॐ सर्वे भवन्तु सुखिनः